List of Small Finance Banks with their Headquarters, Taglines, & Name of Chairman in Hindi

0

List of Small Finance Banks 

Small Finance Bank. भारत की आजादी के 65 से अधिक वर्षों के बाद भी, इतने सारे लोग हैं जो बैंकिंग सेवाओं का उपयोग नहीं कर रहे हैं। बैंकों में उनके पास कोई खाता नहीं है, यहां तक कि कोई भी पहचान प्रमाण नहीं है और फिर भी पुराने पद्धति के साथ लेनदेन कर रहे हैं। इसलिए, वे बैंक या सरकार द्वारा प्रदान की जाने वाली किसी भी वित्तीय उत्पाद और सेवा का उपयोग करने में असमर्थ हैं।

वर्ष 2004 में, आरबीआई ने वित्तीय समावेशन को शामिल करने के लिए खान आयोग तैयार किया था। वित्तीय समावेशन का अभ्यास करने के लिए आरबीआई ने सभी बैंकों को निर्देश दिए थे की, जमा, निकासी, बचत और ऋण को न्यूनतम दस्तावेज, KYC (अपने ग्राहक को जानें) मानदंड शून्य या बहुत कम शेष खातों के साथ सभी नागरिकों को बुनियादी बैंकिंग सुविधाएं प्रदान करें।

हमें अपने समाज के कमजोर वर्ग को बैंकिंग युग में शामिल करने के लिए मूलभूत बैंकिंग सुविधाएं मुहैया करनी चाहिए। केवल बुनियादी बैंकिंग सुविधाएं उन्हें बैंकों में अपने खाते खोलने के लिए आकर्षित कर सकती हैं। यहां तक कि न्यूनतम KYC (अपने ग्राहक को जानें) मानदंडों के साथ अगर बैंक ग्रामीण इलाकों में उपलब्ध नहीं हैं, तो खाता खोलना चिंता का एक बड़ा मुद्दा होगा। आरबीआई उन क्षेत्रों में बैंकिंग सेवाओं को सुविधाजनक बनाने के लिए बिजनेस कोरसपैंटेंट्स (बीसी) को शामिल करके इस समस्या को हल करने की कोशिश कर रहा है जहां बैंक या तो खोलने में असमर्थ हैं या लागत की कमी के कारण अपनी शाखाएं संचालित नहीं कर सकते हैं।

भुगतान बैंकों और लघु वित्त बैंकों का विचार हमारे केंद्रीय बैंकर का अनूठा योगदान है जो हमारे पिछड़े अर्थव्यवस्था में आर्थिक विकास और ग्रामीण बैंकिंग को बढ़ावा देगा। हम यह कह सकते हैं कि एक क्रांति भारतीय बैंकिंग उद्योग में होगी जो हमारे देश में वित्तीय समावेश को और बढ़ाएगी। दोनों लघु वित्त बैंक और भुगतान बैंक, बैंकिंग क्षेत्र का भविष्य हैं और आसानी से वित्तीय समावेशन प्राप्त कर सकते हैं।

Small Finance Bank (लघु वित्त बैंक)

A Step towards Financial Inclusion (वित्तीय समावेशन की दिशा में एक कदम)

भारतीय रिज़र्व बैंक (आर.बी.आई.) ने 16 सितंबर, 2015 को लघु वित्त बैंकों की स्थापना के लिए 10 आवेदकों को सैद्धांतिक रूप से‘ अनुमति प्रदान की थी। आर.बी.आई. को लघु वित्त बैंक के लाइसेंस स्थापित करने के लिए 72 आवेदन प्राप्त हुए थे। बीते वर्ष 2014 में आर.बी.आई. ने निजी बैंक खोलने के लिए दो आवेदकों को लाइसेंस प्रदान किए: आई.डी.एफ.सी. लिमिटेड और बंधन माइक्रोफाइनेंस। “सैद्धांतिक रूप से” अनुमति 18 महीनों के लिए मान्य होगी, ताकि आवेदक भारतीय रिजर्व बैंक द्वारा निर्धारित दिशानिर्देशों के तहत आवश्यकताओं का अनुपालन कर सकें और अन्य शर्तों को पूरा कर सकें।

Following are the list of selected applicants (निम्नलिखित चयनित आवेदकों की सूची दी गई है) –

  1. ए.यू. फाइनेंसर (इंडिया) लिमिटेड, जयपुर (Au Financiers (India) Ltd., Jaipur)
  2. कैपिटल लोकल एरिया बैंक लिमिटेडजलंधर (Capital Local Area Bank Ltd., Jalandhar)
  3. दिशा माइक्रॉफ़िन प्राइवेट लिमिटेड, अहमदाबाद (Disha Microfin Private Ltd., Ahmedabad)
  4. इक्विटस होल्डिंग्स पी. लिमिटेड, चेन्नई (Equitas Holdings P Limited, Chennai)
  5. ई.एस.ए.एफ. माइक्रोफाइनेंस एंड इंवेस्टमेंट्स प्राइवेट लिमिटेड, चेन्नई (ESAF Microfinance and Investments Private Ltd., Chennai)
  6. आर.जी.वी.एन. (उत्तर पूर्व) माइक्रोफाइनेंस लिमिटेड, गुवाहाटी (RGVN (North East) Microfinance Limited, Guwahati)
  7. सूर्योदय माइक्रो फाइनेंस प्राइवेट लिमिटेड, नवी मुंबई (Suryoday Micro Finance Private Ltd., Navi Mumbai)
  8. उज्जीवन फाइनेंशियल सर्विसेज प्राइवेट लिमिटेडबेंगलुरु (Ujjivan Financial Services Private Ltd., Bengaluru)
  9. उत्कर्ष माइक्रो फाइनेंस प्राइवेट लिमिटेड, वाराणसी (Utkarsh Micro Finance Private Ltd., Varanasi)
  10. 10. जनलक्ष्मी फाइनेंशियल सर्विसेज प्राइवेट लिमिटेडबेंगलुरु (Janalakshmi Financial Services Private Limited, Bengaluru)

अब तक 9 लघु वित्त बैंकों ने अपना बैंकिंग संचालन शुरू किया है जो निम्नानुसार हैं – 

  1. कैपिटल स्मॉल फाइनेंस बैंक – (Capital Small Finance Bank (India’s first small finance bank) भारत का पहला लघु वित्त बैंक ने अप्रैल 2016 को पंजाब के जलंधर में अपना बैंकिंग संचालन शुरू किया। मार्च 2016 में बैंक को भारतीय रिजर्व बैंक (आर.बी.आई.) से लघु वित्त बैंक का लाइसेंस मिला।
  • कैपिटल स्मॉल फाइनेंस बैंक के प्रबंध निदेशक सर्वजीत सिंह समरा
  • कैपिटल स्मॉल फाइनेंस बैंक का मुख्यालय – जालंधर, पंजाब।
  • टैगलाइन – विश्वास से विकास तक
  1. इक्विटस स्मॉल फाइनेंस बैंक(Equitas Small Finance Bank) (पूर्व में इक्विटस होल्डिंग पी. लिमिटेड) ने सितंबर 2016 में चेन्नई में 3 शाखाओं के साथ अपना बैंकिंग संचालन शुरू किया। बैंक को जुलाई 2016 में भारतीय रिजर्व बैंक (आर.बी.आई.) से लघु वित्त बैंक का लाइसेंस प्राप्त हआ।
  • पी.एन. वासुदेवन इक्विटस स्मॉल फाइनेंस बैंक के प्रबंध निदेशक और सीईओ हैं।
  • इक्विटस स्मॉल फाइनेंस बैंक का मुख्यालय तमिलनाडु के चेन्नई शहर में है।
  • टैगलाइन – Its Fun Banking
  1. उत्कर्ष स्मॉल फाइनेंस बैंक Utkarsh Small Finance Bank (पूर्व उत्कर्ष माइक्रो फाइनेंस) ने जनवरी 2017 में वाराणसी, पटना, दिल्ली-एनसीआर और नागपुर में पांच शाखाओं के साथ अपना संचालन शुरू किया। बैंक को भारतीय रिज़र्व बैंक (आर.बी.आई.) से लघु वित्त बैंक का लाइसेंस नवम्बर 2016 में प्राप्त हुआ।
  • उत्कर्ष लघु वित्त बैंक के प्रबंध निदेशक और मुख्य कार्यकारी अधिकारी गोविंद सिंह हैं।
  • उत्कर्ष लघु वित्त बैंक का मुख्यालय उत्तर प्रदेश के वाराणसी में है।
  • टैगलाइन – अपकी उम्मीद का खाता
  1. सूर्योदय लघु वित्त बैंक Suryoday Small Finance Bank (पूर्व में सूर्योदय माइक्रो फाइनेंस लिमिटेड) ने जनवरी, 2017 में नवी मुंबई के बेलापुर में अपना बैंकिंग संचालन शुरू किया। नवंबर 2016 में बैंक को भारतीय रिजर्व बैंक (आर.बी.आई.) से लघु वित्त बैंक का लाइसेंस मिला।
  • सुर्योदय लघु वित्त बैंक के प्रबंध निदेशक और सीईओ भास्कर बाबू रामचंद्रन हैं।
  • सूर्योदय लघु वित्त बैंक का मुख्यालय नवी मुंबई के बेलापुर में है।
  • टैगलाइन – एक बैंक ऑफ स्माइल्स
  1. उज्जीवन लघु वित्त बैंक Ujjivan Small Finance Bank (उज्ज्वैन फाइनेंशियल सर्विसेज लिमिटेड की सहायक कंपनी) ने फरवरी 2017 में कर्नाटक के बेंगलुरु शहर में अपना बैंकिंग संचालन शुरू किया। नवंबर 2016 में बैंक को भारतीय रिजर्व बैंक (आर.बी.आई.) से लघु वित्त बैंक का लाइसेंस मिला।
  • सामित घोष उज्ज्वैन लघु वित्त बैंक के प्रबंध निदेशक और मुख्य कार्यकारी अधिकारी हैं।
  • उज्जीवन स्मॉल फाइनेंस बैंक का मुख्यालय कर्नाटक के बेंगलुरु शहर में कोरमंगल में है।
  • टैगलाइन – भरोसा, आप के भरोसे पर
  1. ई.एस.ए.एफ़. लघु वित्त बैंक ESAF Small Finance Bank (पूर्व ई.एस.ए.एफ. माइक्रोफाइनैंस एंड इंवेस्टमेंट प्राइवेट लिमिटेड) ने मार्च 2017 में केरल के तृश्शूर में अपना बैंकिंग संचालन शुरू किया। बैंक को नवंबर 2016 में भारतीय रिजर्व बैंक (आर.बी.आई.) से लघु वित्त बैंक का लाइसेंस प्राप्त हुआ।
  • के. पॉल थॉमस ई.एस.ए.एफ़. लघु वित्त बैंक के प्रबंध निदेशक और सीईओ हैं।
  • ई.एस.ए.एफ़. लघु वित्त बैंक का मुख्यालय केरल के तृश्शूर में है।
  • स्वतंत्रता से बाद ई.एस.ए.एफ़. केरल में बैंकिंग लाइसेंस प्राप्त करने वाला पहला बैंक होगा।
  • टैगलाइन – Joy of Banking
  1. ए.यू. स्मॉल फाइनेंस बैंक (Au Small Finance Bank) ने अप्रैल 2017 में एक छोटे वित्त बैंक के रूप में अपना कार्य शुरू किया। दिसंबर 2016 में बैंक को भारतीय रिजर्व बैंक (आर.बी.आई.) से लघु वित्त बैंक का लाइसेंस मिला।
  • संजय अग्रवाल ए.यू. स्मॉल फाइनेंस बैंक के प्रबंध निदेशक और सीईओ हैं।
  • ए.यू. स्मॉल फाइनेंस बैंक का मुख्यालय राजस्थान के जयपुर शहर में है।
  • टैगलाइन – चलो आगे बढ़े
  1. फिनकेयर स्मॉल फाइनेंस बैंक Fincare Small Finance Bank (पहले दिशा माइक्रॉफ़िन लिमिटेड के नाम से जाना जाता था) ने सितंबर 2017 में गुजरात, तमिलनाडु, कर्नाटक और आंध्र प्रदेश में लगभग 25 संचालन शाखाओं के साथ अपना बैंकिंग संचालन शुरू किया था। बैंक को मई 2017 में भारतीय रिजर्व बैंक (आर.बी.आई.) से लघु वित्त बैंक का लाइसेंस मिला।
  • राजीव यादव फिनकेयर स्मॉल फाइनेंस बैंक के प्रबंध निदेशक और सीईओ हैं।
  • फ़िनकेयर लघु वित्त बैंक का मुख्यालय कर्नाटक के बेंगलुरु शहर में है।
  • टैगलाइन – Banking on More.
  1. उत्तर पूर्वी लघु वित्त बैंक लिमिटेड (North East Small Finance Bank ) ने अक्टूबर 2017 में एक लघु वित्त बैंक के रूप में अपना कार्य शुरू किया। उत्तर पूर्वी लघु वित्त बैंक के प्रवर्तक राष्ट्रीय ग्रामीण विकास निधि माइक्रोफाइनांस लिमिटेड ने मार्च 2017 में भारतीय रिजर्व बैंक (आर.बी.आई.) से लघु वित्त बैंक का लाइसेंस प्राप्त किया
  • रूपाली कलिता उत्तर पूर्व लघु वित्त बैंक की प्रबंध निदेशक हैं।
  • उत्तर पूर्व लघु वित्त बैंक का मुख्यालय असम के गुवाहाटी शहर में है।
  • टैगलाइन – Your Door Step Banker

लघु बैंकों के लिए योग्यता मापदंड(Eligibility criteria for Small Banks) –

  1. बैंकिंग और वित्त कंपनियों और सोसाइटी में 10 वर्षों के अनुभव वाले स्थानीय निवासी को छोटे बैंक स्थापित करने के लिए संस्थापक के रूप में योग्य माना जाऐगा।
  2. मौजूदा गैर-बैंकिंग वित्त कंपनियां (एन.बी.एफ.सी.), माइक्रो फाइनेंस इंस्टीट्यूशंस (एम.एफ.आई.), और लोकल एरिया बैंक (एल.ए.बी.) जो किसी स्थानीय निवासी के स्वामित्व में हैं और उसके द्वारा नियंत्रित किए जाते हैं, वह लघु वित्त बैंकों में रूपांतरण करने का विकल्प चुन सकते हैं।
  3. लघु वित्त बैंकों को बढ़ावा देने के लिए संस्थापक या संस्थापक समूह को ‘उपयुक्त और उचित’ अच्छे रिकॉर्ड के साथ कम से कम पांच वर्ष के व्यवसायिक अनुभव सहित योग्य होना चाहिए।

लघु वित्त बैंक को स्थापित करने के लिए प्रमुख दिशा-निर्देश और अन्य शर्तें (Other Key guidelines and other conditions to set Small Finance Bank)-

  1. लघु बैंक को कंपनी अधिनियम, 2013के अंतर्गत एक सार्वजनिक लिमिटेड कंपनी के रूप में पंजीकृत किया जाएगा।
  2. नए बैंकों को अपने नाम के साथलघु वित्त बैंक‘ शब्दों का उपयोग करना होगा।
  3. पूंजी की आवश्यकता– लघु बैंकों के लिए न्यूनतम पेड-अप कैपिटल आवश्यकता100 करोड़ रूपये होगी।
  4. मूलभूत बैंकिंग सुविधाएं प्रदान की जा सकती हैं– लघु बैंक जमा राशि को स्वीकार कर सकते हैं और साथ ही साथ ऋण की सुविधा भी प्रदान कर सकते हैं। लघु बैंक फिक्सड डिपॉज़िट (एफ.डी.),टर्म डिपॉज़िटरिक्युरिंग डिपॉज़िट (आर.डी.) और किसी भी अनिवासी भारतीय जमा राशि को स्वीकार कर सकते हैं।
  5. संस्थापक का योगदान:पहले पांच वर्षों के लिए संस्थापक का योगदान कम से कम 40 प्रतिशत होगा। पांचवें वर्ष के अंत तक अतिरिक्त शेयरहोल्डिंग को 40 प्रतिशत घटाकर 10 वें वर्ष के अंत में 30 प्रतिशत तक कर दिया जाना चाहिए और व्यापार शुरू होने की तारीख से 12 वर्षों में 26 प्रतिशत करना चाहिए।
  6. विदेशी शेयरहोल्डिंग:लघु वित्त बैंक में विदेशी शेयरहोल्डिंग विदेशी प्रत्यक्ष निवेश (एफ.डी.आई.) नीति के अनुसार होगी।
  7. वह गैर-बैंकिंग वित्तीय सेवाओं की गतिविधियों को चलाने के लिए सहायक कंपनियों को स्थापित नहीं कर सकते।
  8. एकल / समूह उधारकर्ता / जारी करने वालों के लिए अधिकतम ऋण का आकार और निवेश सीमा कुल पूंजी निधियों का15 प्रतिशत तक सीमित होगा।
  9. मुख्य रूप से लघु उद्यमों के लिए 25 लाख रुपए के ऋण और अग्रिम ऋण निवेश सूची का कम से कम50 प्रतिशत होना चाहिए।
  10. प्रारंभिक तीन वर्षों के लिए, 25 प्रतिशत शाखाएं बिना बैंक वाले ग्रामीण क्षेत्रों में होनी चाहिए।
  11. प्रारंभिक तीन वर्षों के लिए, शाखा के विस्तार के लिए पूर्व स्वीकृति की आवश्यकता होगी।
  12. लघु वित्त बैंकों को अपने समायोजित नेट बैंक क्रेडिट (ए.एन.बी.सी.) का 75 प्रतिशत क्षेत्र वर्गीकरण के लिए योग्य क्षेत्रों को बढ़ाने की आवश्यकता होगी क्योंकि इसे भारतीय रिज़र्व बैंक द्वारा प्राथमिकता क्षेत्र ऋण (पी.एस.एल.) के रूप में वर्गीकृत किया जाएगा।

लघु वित्त बैंक और भुगतान बैंक में अंतर (Difference between Small & Finance Bank)

लघु वित्त बैंक (Small Banks)

  • लघु वित्त बैंक जमा राशि स्वीकार कर सकते हैं और साथ ही साथ ऋण उत्पादों की सुविधा भी प्रदान कर सकते हैं।
  • लघु वित्त बैंक फिक्स्ड डिपॉज़िट (एफ.डी.), टर्म डिपॉजिट, रिक्युरिंग डिपॉजिट (आरडी) और किसी भी अनिवासी भारतीय जमा राशि को स्वीकार कर सकते हैं।
  • लघु वित्त बैंक छोटे किसानों, सूक्ष्म और लघु उद्योगों, असंगठित क्षेत्र को बैंकिंग सेवाएं प्रदान करेंगे।

भुगतान बैंक (Payment Banks)

  • भुगतान बैंक लोगों को ऋण प्रदान नहीं कर सकता है।
  • भुगतान बैंक फिक्स्ड डिपॉज़िट (एफ.डी.), टर्म डिपॉजिट, रिक्युरिंग डिपॉजिट (आरडी) और किसी भी अनिवासी भारतीय जमा राशि को स्वीकार नहीं कर सकते हैं।
  • भुगतान बैंक प्रवासी मजदूरों, निम्न आय वाले परिवारों, छोटे व्यवसायों, अन्य असंगठित क्षेत्रों की संस्थाओं और अन्य उपयोगकर्ताओं को बैंकिंग सेवाएं प्रदान करेंगे।
  • भुगतान बैंक छोटे बचत खाते खोल सकते हैं और प्रति व्यक्ति 1 लाख रुपये तक की जमा राशि स्वीकार कर सकते हैं।
  • भुगतान बैंक डेबिट कार्ड जारी कर सकते हैं लेकिन वे क्रेडिट कार्ड सुविधा प्रदान करने के लिए योग्य नहीं हैं।
  • भुगतान बैंकों को अपने स्वयं के ए.टी.एम. (स्वचालित टैलर मशीन) स्थापित करने की अनुमति है।

You may also like – List of Small Finance Banks with its Headquarters (HQ) | Complete Details

Small Finance Banks : Download In PDF 


SBI Clerk Preparation | Related Links

Topics Related Links
SBI Clerk Official Notification Click Here
45 Days Study Plan for SBI Clerk Prelims 2018 Click Here

SBI Clerk 2018 Exam FAQs – Everything you need to know!

 Click Here
How to Solve Number Series Questions? Tips & Tricks Click Here
How to Solve Quadratic Equation? Tips & Tricks Click Here
How to Solve Simplification & Approximation Questions? Tips & Tricks Click Here
How to Solve Simple Interest Questions? Tips & Tricks Click Here
Tips & Tricks to solve Reasoning Questions in SBI Clerk 2018 Click Here
SBI Clerk Syllabus & New Exam Pattern 2018 Click Here
SBI Clerk Previous Year Cut off Marks Click Here
SBI Clerk Previous Year Exam Analysis Click Here

Print Friendly, PDF & Email
Quantitative Aptitude book For Banking and Insurance Exams